जब पूरी दुनिया हो योग के लिए क्रेजी तो क्यों ना इसी में बनाएं शानदार कैरियर…

हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। तो जाहिर है कि इस दिन देश-विदेश में योग को प्रोत्साहित करने वाले कई कार्यक्रम भी आयोजित किए जाते हैं। लोगों की विशाल भीड़ योग के लिए इकट्ठी होती है। लेकिन आपको पता है कि जब योग के लिए पूरी दुनिया क्रेजी हो तो आपके पास तो सुनहरा अवसर है, इसे अपना कैरियर बनाने का है। तो देर किस बात की है। हम आपकी इस समस्या का हल भी कर देते हैं। कहां और कैसे पढ़ाई करें कि योग में भविष्य संवर जाएं।

वैसे देखा जाए तो पिछले कुछ सालों से जब अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को इतना हाईलाइट्स किया जा रहा है तो इनके एक्सपट्र्स भी सामने आ रहे हैं और प्रशिक्षण देकर लाखों भी कमा रहे हैं। इसके साथ-साथ कई कंपनियों भी योग विशेषज्ञों की अच्छी-खासी मांग भी बनी हुई है।

एक अच्छा वक्ता होना बेहद जरूरी
योग की पढ़ाई के साथ-साथ आपको एक अच्छा वक्ता होना भी जरूरी होगा। ताकि लोग आपकी बातों को स्पष्ट सुन सकें और समझते हुए उस पर अमल करें। 

हिन्दी के साथ अंग्रेजी का ज्ञान भी जरूरी
वैसे तो योग के लिए क्षेत्रीय भाषा और हिन्दी ही काफी है। लेकिन जब संवाद और बातचीत लगातार होती रहे तो आपको हिन्दी के साथ-साथ अंग्रेजी का भी ज्ञान होना चाहिए। ताकि यदि विदेशों में आपकी जरूरत पढ़ें तो आकर्षक पैकेज के साथ आप वहां योग एक्सपट्र्स बन सकें।

लगातार प्रशिक्षण और अभ्यास जरूरी
एक अच्छे योग टीचर को लगातार प्रशिक्षण और अभ्यास जरूरी होता है। यदि आपके पास सिर्फ किताबी ज्ञान है और प्रैक्टिकल नॉलेज नहीं तो आपकी सफलता का प्रतिशत गिर सकता है।

यहां मिलेगा जॉब
योग के बाद आप रिसर्च सेक्टर में अपनी जगह बना सकते हैं, देश के नामी संस्थान से रिसर्च के बाद आप विदेश में भी नौकरी कर सकते हैं। देश के नामी हेल्थ रिसॉर्ट और इंटरनेशनल फाइव स्टार होटल चेन में भी योग इंस्ट्रक्टर की जॉब निकलती है। योग का प्रशिक्षण हासिल कर योग एयरोबिक्स इंस्ट्रक्टर, योग थेरेपिस्ट, योग इंस्ट्रक्टर, योग टीचर, थेरेपिस्ट एंड नैचूरोपैथ्स, रिसर्च ऑफिसर के तौर पर काम किया जा सकता है।

भारत में यहाॅ है जाब्स की संभावना
केन्द्र सरकार ने फिजिकल एजुकेशन प्रोग्राम के तहत छठी से दसवी क्लास के बच्चो के लिए केन्द्रीय एवं नवोदय विद्यालयो में योगा का एक विषय के रूप में रखा है। इसके लिए ट्रेंड योगा शिक्षको की जरूरत और आगे बढे़गी। मप्र दिल्ली सहित कई राज्यो में सरकारी स्कूलो में योग एक विषय के रूप में शामिल किया गया है। प्राइवेट स्कूल में भी अब योग को विषय के रूप में रखा जा रहा है। अगर आपकी अंग्रेजी अच्छी है तो अमेरिका और अन्य देशो में भी योग इंस्ट्रक्टर के लिए अच्छे मौके है। वहाॅ सेलरी भी काफी अच्छी है।

ट्रेंड होने के लिए क्या करे? देश में ऐसे कई संस्थान है जो योग में डिग्री डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स कराते है।
1. मोराजी देसाई नेशनल इंस्टीट्यूट आफ योगा (नई दिल्ली)
2. स्वामी विेवेकानंद योगा अनुसंधान संस्थान ( बेंगलुरू)
3. बिहार स्कूल आॅफ योगा (मुंगेर)
4. द योगा इंस्टीट्यूट सांताक्रूज (मुंबई)
5. इण्डियन इंस्टीट्यूट आॅफ योगिक सांइस एंड रिसर्च (भुवनेश्वर)
6. देव संस्कृति विश्वविद्यालय (हरिद्वार)
7. गुरूकुल कांगडी यूनिवर्सिटी (हरिद्वार)
8. गुजरात यूनिवर्सिटी (अहमदाबाद)
9. भावनगर यूनिवर्सिटी (भावनगर), गुजरात
10. राममनोहर लोहिया अवध यूनिवर्सिटी (अयोध्या(फैजाबाद) उत्तर प्रदेश)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *