सीबीएसई का एक और महत्वपूर्ण कदम 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए खुलेगा डिजिलॉकर अकाउंट

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने अपने छात्रों के लिए एक और महत्वपूर्ण कदम उठाया है। इसके तहत अब कक्षा  9वीं से 12वीं तक के सभी छात्र-छात्राओं के लिए डिजिलॉकर की सुविधा शुरू करने का फैसला किया है। बोर्ड द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, 15 मई 2020 तक सभी विद्यार्थियों के लिए डिजिलॉकर अकाउंट शुरू कर दिए जाएंगे। इसके बाद विद्यार्थी अपना रजिस्ट्रेशन कार्ड उसमें अपलोड करके सुरक्षित रख सकते हैं।


इससे पहले ये सुविधा बोर्ड कक्षाओं यानी 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए शुरू हुई थी। लेकिन अब इसका इस्तेमाल 9वीं से 12वीं तक के छात्र भी कर सकेंगे। 


इस अकाउंट में संबंधित छात्रों के सिर्फ बोर्ड मार्कशीट ही रखे जा सकते थे। लेकिन अब सीबीएसई से संबद्ध स्कूलों के 9वीं, 10वीं, 11वीं और 12वीं कक्षाओं के विद्यार्थी इस अकाउंट में अपने रजिस्ट्रेशन कार्ड की भी डिजिटल कॉपी सुरक्षित रख सकते हैं।  


रजिस्ट्रेशन कार्ड जारी


सीबीएसई ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर विद्यार्थियों के रजिस्ट्रेशन कार्ड 5 फरवरी 2020 को ही जारी कर दिया है। स्कूल इसे डाउनलोड कर सकते हैं। किसी तरह की गलती होने पर उसमें सुधार के लिए स्कूल के माध्यम से बोर्ड को आवेदन भेजें।


आपको बता दें कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने छात्रों की गहन सोच और तर्क क्षमता को बढ़ाने के 2019-20 सत्र से 10वीं और 12वीं कक्षा के पैटर्न में बदलाव किए हैं। इसके तहत प्रश्नपत्र में 20 फीसदी सवालों को बहुविकल्पीय और 10 फीसदी को रचनात्मक बनाया जाएगा। सभी सवालों के 33 फीसदी हिस्से में छात्रों को आंतरिक विकल्प दिया जाएगा।


हर विषय के पेपर में 1 नंबर वाले 25 फीसदी बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे, जिन विषयों में प्रैक्टिकल नहीं होते हैं, उनमें इस बार से इंटरनल असेसमेंट लिया जायेगा। इंटरनल असेसमेंट 20 अंकों का होगा। 2020 में होने वाली 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं में ये बदलाव लागू होंगे। सीबीएसई ने पिछले साल ही सर्कुलर भी जारी किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *